इस वर्ष आषाढ़ अधिक मास है। यह १७ जून से लेकर १६ जुलाई तक है। लोक में अधिकमास को पुरुषोत्तम मास अथवा मलमास कहते हैं। अधिकमास में विवाह, मुण्डन, यज्ञोपवीत, गृहारम्भ, गृहप्रवेश, वेदव्रत, वृषोत्सर्ग, वधूप्रवेश, दीक्षा, उद्यापन, महादान, मंदिरनिर्माण, यज्ञकर्म नहीं किया जाता है। अधिक मास में तीर्थश्राद्ध, वार्षिकश्राद्ध, शिवविष्णुकीपूजा करने का विशेष महत्त्व है।.. read more →